छत्तीसगढ़ गोधन योजना ₹2 किलो गोबर सरकारी योजना रजिस्ट्रेशन कैसे करें !

0
33

नमस्ते मैं उपेंद्र सिंह सिदार  मेरी जिज्ञासा इस ब्लॉग वेबसाइट पे आप सभी लोगों का स्वागत करता हूं मुझे उम्मीद और विश्वास है कि आपको यह लेख जरूर पसंद आएगा तो चलिए स्टार्ट करते हैं बूम… … … … … … … 

वैसे तो सरकार दोस्तों कुछ ना कुछ योजना निकालती रहती है जिससे आम लोगों को बेनिफिट मिले तो आज हम बात करने वाले हैं छत्तीसगढ़ गोधन योजना के बारे में ज़ी हां छत्तीसगढ़ गोधन योजना क्या है और उससे मिलने वाले लाभ के बारे में आगे विस्तार से जानेंगे! 

छत्तीसगढ़ सरकार माननीय भूपेश बघेल ने पशुपालकों के लिए गोधन योजना का ऐलान किया है जिसमें लोगों को लाभ मिलेगा गोबर को ₹2 किलो के हिसाब से सरकार खरीदेगी और गोबर खाद बनाने के काम भी आता है कितना महत्वपूर्ण है पशु पालन करना यह तो वही लोग जानते हैं जो पशु पालन करते हैं ! 

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना

इस योजना का एलान छत्तीसगढ़ के माननीय भूपेश बघेल ने किया है सरकार द्वारा किया गया यह ऐलान के जरिए किसानों और पशु पालन करने वाले लोगों की आय में वृद्धि होगी !

साथ ही गोबर का दाम मिलने की वजह से कोई भी गाय को बाहर नहीं छोड़ेगा छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में गाय को बाहर में दूध निकालने के बाद छोड़ दिया जाता है जिसमें गोबर जगह जगह पर पड़ा रहता है !

जिससे गंदगी भी फैलती है गोधन योजना में गाय का गोबर बेचने के लिए इस पर पूरी तरह रोक लग सकेगी साथ ही पशुपालकों के आय के रूप में सभी को फायदा होगा! 

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना ₹2 प्रति किलो गोबर खरीद स्कीम

छत्तीसगढ़ गोधन योजना में अब मूल्य को निर्धारित कर लिया गया है पशुपालकों एवं गोठानो के लिए सरकार जिसमें ₹2 प्रति किलो गोबर खरीदेगी इसके लिए सरकार योजना के लोगों के लिए एक कार्ड भी जारी किया जाएगा! 

वही इस स्कीम के अंदर गठान समिति या उसके द्वारा नामित समूह द्वारा घर-घर जाकर गोबर संग्रहण किया जाएगा राज्य के निवासियों के लिए खरीदे गए गोबर से जुड़ी सभी जानकारी इन कार्ड में रोजाना दर्ज की जाएगी इस योजना की शुरुआत राज्य में 20 जुलाई हरेली के पर्व से कर दी गई है ! 

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2020 का उद्देश्य

छत्तीसगढ़ में किसान समेत गरीब लोग पशुपालन का काम करते हैं लेकिन इसमें अधिक आय ना होने के कारण वह अपनी गायों को इधर उधर बाहर चरने के लिए छोड़ देते हैं 

जिसमें गोबर के कारण गंदगी तो फैलती ही है साथ ही गायों के एक साथ निकलने के कारण सड़क में कई हादसे भी होते हैं इन सभी समस्याओं को हल करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने पशुपालन को एक व्यवसाय के रूप में एलान किया है इससे समस्याएं भी खत्म होगी और साथ ही गायों को चारा देने का जिम्मेदारी भी निभाई जाएगी! 

छत्तीसगढ़ गोधन योजना की कुछ महत्वपूर्ण बातें

योजना दो चरण में चलाया जाएगा जिसमें पहले चरण में  राज्य के 2240  गोठानो को जोड़ा जाएगा वही कुछ ही दिनों में2800  गोठानो का निर्माण होने के बाद दूसरे चरण में भी गोबर खरीदा जाएगा

योजना को भविष्य में और कारगार बनाने के लिए राज्य के 20000 गांव में और शहरों में भी चलाया जाएगा

योजना के माध्यम से सरकार 21 जुलाई 2021 को पहली बार गोबर खरीदने की शुरुआत करेगी

इस योजना में किसानों एवं राज्य के पशुपालकों से सरकार ₹2 प्रति किलो के हिसाब से गोबर खरीदेगी

योजना के लाभार्थियों को सरकार एक कार्ड जारी करेगी जिसमें गोबर की मात्रा कीमत और अन्य सभी जानकारियां मौजूद रहेगी

 

 गोधन न्याय योजना के लाभ

योजना के माध्यम से पशुपालन को एक व्यवसाई रूप मिलेगा

गायों को  सही तरीका से चारा मिलेगा

पशुओं के साथ सड़क में होने वाले हादसे पर रोक लग पाएगी

 राज्य मैं किसानों को और पशु पालन करने वालों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा

राजिया से गंदगी दूर होगी

गोबर का इस्तेमाल खाद बनाने के लिए किया जाएगा

गांव में गोबर के उपले बनाकर उसे जलाने पर रोक लगेगी

  गोधन गोबर खरीद योजना छत्तीसगढ़ में आवेदन हेतु पात्रता एवं शर्तें

योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए

राज्य के बड़े जमींदारों को इसका लाभ शायद दिया जाएगा क्योंकि वह पहले से समृद्ध है

आवेदक मूल रूप से छत्तीसगढ़ का नागरिक होना चाहिए

पशुओं की संख्या की जानकारी दर्ज करनी अनिवार्य होगी

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना में आवेदन कैसे करे ?

इसका अभी तक कोई ऑफिशियल वेबसाइट नहीं बना है जब बनेगा तो हम आपको उसकी जानकारी दूसरे पोस्ट के माध्यम से आप तक पहुंचाएंगे धन्यवाद

निष्कर्ष

दोस्तों अगर आपको मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों में रिश्तेदारों में फैमिली मेंबर में फेसबुक व्हाट्सएप टि्वटर जैसे सोशल साइट पर शेयर जरूर करें धन्यवाद फिर मिलेंगे बहुत जल्द अगले पोस्ट पर तब तक आप मेरा इंतजार कीजिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here