डोमेन नाम नियोजन और निबंधन Domain Name Planning And Registration पूरी जानकारी हिंदी में 2021

0
73

हेलो नमस्ते मैं उपेंद्र सिंह सिदार आप सभी लोगों का मेरी जिज्ञासा डॉट इन एस ब्लॉग वेबसाइट पर सभी लोगों का स्वागत करता हूं उम्मीद और आशा करता हूं कि आपको यह पोस्ट जरूर पसंद आएगा

आज हम जानेंगे कि डोमेन नाम नियोजन और निबंधन Domain Name Planning And Registration कैसे करते हैं और हम उसी कॉन्सेप्ट के बारे में बात करने वाले हैं

डोमेन नाम एक ऐसा पता है जिसके जरिए इंटरनेट प्रयोग ता आपको वेब पर देखेंगे व वेब प्रकाशन का पहला चरण है डोमेन नाम का नियोजन और रजिस्ट्रेशन डोमेन का नाम रजिस्टर करवाते समय कुछ बातों का आपको ध्यान रखना चाहिए उनकी चर्चा हम आगे करेंगे

डोमेन का नाम प्राप्त करना Getting a Domain Name

सबसे पहले जो कार्य आपको करने की आवश्यकता होती है वह है प्रस्तावित साइट के लिए एक डोमेन नाम प्राप्त करना डोमेन का का नाम वह नाम है जो आप अपनी साइट को देना चाहते  है उदाहरण के लिए www.merijigyasa.in एक डोमेन नाम है

एक डोमेन नाम प्राप्त करने के लिए आपको एक रजिस्टार को एक वार्षिक शुल्क उस नाम का प्रयोग करने देने की अनुमति के बदले देना पड़ता है एक नाम प्राप्त कर लेने से आपको वेबसाइट नहीं मिल जाति यह सिर्फ एक नाम है यह कुछ वैसा ही है जैसे नकल से बचने के लिए किसी सरकारी संस्था के अधीन किसी व्यवसायिक नाम का रजिस्ट्रेशन 

कराना

एक डोमेन नाम का चयन करना Choosing a Domain Name

इससे पूर्व की आप शीघ्रता बरतते हुए अपना डोमेन नाम चुने और वेबसाइट का नामकरण करें आपको  निम्न बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता होगी

आपका डोमेन नाम ही आपकी वेबसाइट का नाम होना चाहिए

ऐसा डोमेन नाम जो आपके ब्रांड के नाम से मेल खाता हो बहुत महत्वपूर्ण है वही नाम जिसका प्रयोग आप अपने उत्पाद के विज्ञापन मैं करते हैं आप अपने डोमेन के लिए भी चाहेंगे क्योंकि यही वह पहली चीज होगी जिसे लोग अपने ब्राउज़र में टाइप करके देखेंगे! 

आपका डोमेन नाम बहुत लंबा नहीं होना चाहिए

डोमेन नाम 67 अक्षरों कैरेक्टर तक किसी की लंबाई के हो सकते हैं आपको एक आई स्पष्ट डोमेन नाम जैसे www.merijigyasa.in से ही संतोष कर लेने की आवश्यकता नहीं है जबकि आप जो चाहते हैं 

वह है Hamarachattisgarh.com यद्यपि आप एक छोटा डोमेन नाम प्राप्त करने में सफल हो जाते हैं तो मुख्य बात यह सुनिश्चित करना है कि यह अक्षरों का एक सार्थक मेल या संयोजन है या नहीं! 

आपके डोमेन नाम को हाइफान मुक्त होना चाहिए 

Hyphenation युक्त डोमेन नेम के कुछ फायदे भी हैं और नुकसान भी यदि आपका डोमेन नाम हाय फन सहित है तो सर्च इंजन कीवर्ड्स को बेहतर रूप से पहचान सकते हैं

नुकसान यह है कि नाम टाइप करते समय सुझाव का भूल जाना अत्यंत आम बात है इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति मौखिक रूप से आपकी साइट देखने का अपने किसी मित्र को सुझाव रिकमेंड देता है तो आपके डोमेन नाम में हाय फन होना गलती होने की संभावना बढ़ाता है इसलिए यह परामर्श निया है की जहां तक संभव हो किसी डोमेन नाम में हाय फन देने से बचा जाए

आपके डोमेन नाम में बहुवचन शब्द नहीं होने चाहिए

डोमेन नाम का बहुवचन नाम उदाहरण के लिएलिए websites.com हमेशा ही नुकसान का कारण बनता है क्योंकि आगंतुक द्वारा नाम में s टाइप करने की बात भूल जाने की संभावना संभावना बहुत रहती है उदाहरण के लिए मान लीजिए कोई व्यक्तिव्यक्ति websites.com log आन करना चाहता है किंतु गलती से website.com 

पर log on कर देता है तो बहुत संभव है कि इससे क्लाइंट को नुकसान होने का खतरा रहेगा यदि दोनों ही डोमेन को उत्पाद सामान हो

आपके शीर्ष स्तरीय डोमेन नाम को आपकी वेबसाइट की प्रकृति को प्रदर्शित करना चाहिए

यदि आपकी साइट किसी परोपकारी संस्था या स्वयंसेवी संगठन है तो कभी भी डॉट कॉम वाला डोमेन नाम ना लें नाही राष्ट्र विशेष संबंधी शीर्ष स्तरीय डोमेन ले ना भूलें यदि आप किसी राष्ट्र विशेष के क्लाइंट के लिए काम कर रहे हो यदि आप लाभ के लिए व्यवसाय में उतरे हैं तो डॉट कॉम आपके लिए सबसे अच्छा शीर्ष स्तरीय डोमेन होगा और यदि आप भारत में व्यवसाय कर रहे हो तो डॉट इन को राष्ट्र विशेष के शीर्ष स्तर डोमेन के रूप में चुने

अपने डोमेन नाम को निबंधित करना Registering Your Domain Name 

डोमेन नाम पाने की प्रक्रिया में शामिल है अपने पसंद के नाम को InterNIC, Hostgator नामक संगठन से एक डोमेन नाम रजिस्टार के द्वारा निबंधित करवाना उदाहरण के लिए यदि आप एक नाम जैसे Hamarachattisgarh.com पसंद करते हैं 

तो आपको रजिस्टर के पास जाना होगा एक निबंधन शुल्क अदा करना होगा जो उस नाम के लिए 300 से ₹700 तक आ सकता है जो आपको 1 साल के लिए उस नाम का प्रयोग करने का अधिकार दे देगा और आपको प्रतिवर्ष वही राशि अदा कर उस नाम का नवीनीकरण Renewal कराना होगा 

हालांकि आप अपने डोमेन नाम का रजिस्ट्रेशन एक बार में 1 साल से अधिक के लिए भी उसी अनुपात में शुल्क अदा कर करा सकते हैं मेन ना उतनी ही तेजी से गायब भी हो जाते हैं अधिकांश अच्छे डोमेन नाम जो अपने उत्पाद और सेवाओं का वर्णन करते हैं ले लिए गए हैं यदि आप अपनी साइट के लिए 1नाम चाहते हैं तो मेरी सलाह है कि आप अभी पहले शुरू करें या फिर बाद में नाम खो देने का दुख झेलना पड़ेगा

आखिर ₹700 जो सबसे महंगे रजिस्ट्रार द्वारा मांगी गई रकम है 1 साल के स्वामित्व के लिए काफी सस्ते प्रतीत होते हैं जब आप यहां अनुभव का लेते हैं कि आप अपनी वेबसाइट के लिए एक अच्छा नाम प्राप्त कर पा रहे हैं

बहुत से डोमेन नाम रजिस्टर कंपनियां हैं जो आपके डोमेन नाम को रजिस्टर कर सकती हैं हालांकि उनके शुल्क समय-समय पर बदलते रहते हैं कुछ प्रमुख कंपनियां हैं जो आपकी साइट को रजिस्टर करती है वह है 

www.godaddy.com

www.hostgator.in

www.bluhost.com

www.hostinger.in

www.bigrock.com

इत्यादि आप जहां से चाहे वहां से अपना डोमेन रजिस्टर कर सकते हैं

जब कभी आपकी इच्छा हो तो उस  रजिस्ट्रार की वेबसाइट पर लॉग ऑन करके जिससे आप अपने डोमेन को रजिस्टर करना चाहते हैं संबंध है या प्रासंगिक दरों का पता लगा सकते है

हालांकि कुछ ऐसे भी कंपनियां हैं जो कि निशुल्क डोमेन नाम प्रस्तावित करती हैं यह परामर्श लिया है कि अपना स्वयं का डोमेन नाम रखें और सर्वश्रेष्ठ प्रस्तावित प पैकेज के आधार पर अपनी पसंद के server पर अपनी साइट को होस्ट करें 

जब आप रजिस्टर कर लिए जाते हैं तो आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्रदान किया जाता है ताकि आप कंट्रोल पैनल को  अभीगम कर सकें और आपने डोमेन को व्यवस्थित कर सकें आपको डी एन एस आईपी पते और उनके प्राइमरी और सेकेंडरी नेमसर्वर के नाम आपके वेब होस्ट द्वारा प्रदान किए जाते हैं डोमेन नाम रजिस्टर कराने के लिए आपके पास एक क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड होना चाहिए 

हालांकि यह बहुत आवश्यक नहीं है पर यदि आपके पास यहां है तो इससे आपको अपने डोमेन नाम को तुरंत फ्लेम करके आवेदन करते ही पा लेने में सहायता मिलेगी यद्यपि यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड की सुविधा नहीं है तो आप डीडी डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं या संबंधी रजिस्ट्रार कंपनी के बैंक खाते में सीधे जमा करवा सकते हैं भारत से संचालित हो रही अधिकांश कंपनियों में डीडी के जरिए भुगतान या जमा करने की सुविधा उपलब्ध रहती है

निष्कर्ष

दोस्तों अगर आपको मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों में रिश्तेदारों में फैमिली मेंबर में फेसबुक व्हाट्सएप टि्वटर जैसे सोशल साइट पर शेयर जरूर दोस्तों हम आप लोगों के लिए मेहनत करके इस तरह का जानकारी कॉन्टेंट प्रोवाइड करते हैं आप का भी फर्ज बनता है की ऐसे नॉलेजेबल जानकारी को दूसरे लोगों तक पहुंचाएं ताकि जो लोग नहीं जा रहे हैं वह भी जान जाए थैंक यू सो मच जय हिंद जय छत्तीसगढ़ फिर मिलेंगे बहुत जल्द हमारे अगले पोस्ट पर मेरा इंतजार कीजिएगा और अपना ख्याल रखिएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here