Pahla E-mail Kab Aur Kishne Bheja Puri Jankari Hindi Mein 2021

0
66

हेलो नमस्ते मैं उपेंद्र सिंह सिदार आप सभी लोगों का मेरी जिज्ञासा डॉट इन एस ब्लॉग वेबसाइट पर सभी लोगों का स्वागत करता हूं उम्मीद और आशा करता हूं कि आपको यह पोस्ट जरूर पसंद आएगा

 आज हम जानेंगे कि ईमेल की शुरुवात कैसे हुई और पहला ईमेल कब और किसने भेजा आज हम इसी concept के बारे में बात करने वाले हैं  तो चलिए स्टार्ट करते हैं धूम

Electronic mail ki shuruwat kish warsh huyi pahla e-mail kab aur kishne bheja 

इलेक्ट्रॉनिक मेल की शुरुआत किस वर्ष हुई पहला ईमेल किसने और कब भेजा

इलेक्ट्रॉनिक मेल की शुरुआत 1972 में की गई रानी एलिजाबेथ ने 1976 में अपना पहला ईमेल भेजा

1973 में ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकोल इंटरनेट प्रोटोकोल टीसीपी आईपी को डिजाइन किया गया और 1983 में या इंटरनेट पर कंप्यूटरों के बीच संचार का मानदंड बन गया ! 

इन प्रोटोकॉल में से एक एफटीपी फाइल ट्रांसफर प्रोटोकोल प्रवक्ताओं को दूरस्थ कंप्यूटर को शुरू करने उस कंप्यूटर पर फाइलों को सूचीबद्ध करने और उस कंप्यूटर से फाइलों को डाउनलोड करने में मदद करता है।

1976 में एटी एंड ईमेल लैबोरेट्रीज ने यूनिक्स टू यूनिक्स कॉपी प्रोग्राम नाम की एक यूनिक्स यू पी ली थी शुरू की जोकि फोन लाइन के माध्यम से कंप्यूटर के बीच फाइलों को भेजने का एक असरदार और कम लागत वाला तरीका था 1979 में ड्यूक विश्वविद्यालय और उत्तरी कैलिफोर्निया के विश्वविद्यालय के दो छात्रों ने uucp संयोजन connection के साथ वाले लोगों को न्यूज़ ग्रुप नामक एक विषय पर पत्र भेजकर उनकी यूनिक्स समस्याओं पर चर्चा करने के लिए एक विकल्प की खोज की 

लोगों ने usenet न्यूज यूनिक्स यूजेस नेटवर्क नामक संयोजन कनेक्शन k एक जटिल नेटवर्क में फोन लाइनs के माध्यम से न्यूज़ग्रुप्स को भेजा और दूसरों तक पहुंचाया चूंकि  इसने साधारण टेलीफोन सयोजनो का प्रयोग किया अतःहै इसे कई बार गरीबों का ARPANET  भी कहा जाता था

Usenet लोगों के बीच एक ग्रास रूट संयोजन कनेक्शन बनकर उमड़ा और इसने सूचनाओं और समर्थन के आदान प्रदान की संस्कृति को जन्म दिया आज विज्ञान कल्पना से लेकर रजाई बनाने तक के विषयों पर हजारों न्यूज़ ग्रुप उपलब्ध हैं usenet  कंप्यूटर नेटवर्किंग hauben 1993 मैं यूनिक्स प्रोग्रामर्स और विकास कर्तावो के बीच उच्च दर्जे का सहयोग बनाना जारी रखता है।

You Also Read

वेब होस्ट चुनना और एक अकाउंट के लिए साइन अप करना

WordPress Google AdSense Ads.txt file Kaise Banaye Aur Manage Setup Kare

How To Install Software In Dead Mobile In Hindi/Mobile Mein Software Kaise Dale

Impact Of Internet On Society In Hindi 2021

Apple Safari Browser Kya Hai

 1981 में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय और बर्कले के येल विश्वविद्यालय में ARPANET और usenet के बीच के अंतर को खत्म कर दिया गया इसी समय 1981 में न्यूयॉर्क के सीटी विश्वविद्यालय और येल विश्वविद्यालय में बी.आई.टी नेट विकास इट्स टाइम नेटवर्क नाम के एक नेटवर्क का निर्माण किया गया जो कि आई.बी.एम प्रोटोकॉल पर आधारित था

यह पूरे संसार के शैक्षणिक संस्थानों के बीच विशेषकर अपेक्षाकृत छोटे प्रायः आई.बी.एम द्वारा आर्थिक सहायता दिए गए लिंक से हटे हुए संस्थानों के बीच फैल गया इसने ARPANET पर उपलब्ध शैक्षिको की  तरह शैक्षिको में सूची के विकास को परिचर्चा दलो के रूप में काम करने को बढ़ावा दिया

1983 में अलग-अलग नेटवर्क के बीच संदेशों के क्रम में प्रवेश द्वारो gate ways के बीच संयोजन के रूप में काम करने के लिए ARPANET एक सुदृढ आधारभूत संरचना बन गई।

यह इसमें सफल रहा क्योंकि इसने टीसीपी आईपी ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकोल इंटरनेट प्रोटोकॉल को संचार के लिए अपने मापदंड के रूप में अपनाया यह प्रोटोकॉल आज इंटरनेट के मानदंड के रूप में जारी है दरअसल यह इतना सफल रहा कि प्रत्येक यूजर इसमें शामिल होना चाहता था।

और 1986 तक के ARPANET को समाप्त कर उसकी जगह पर एक बड़े ज्यादा तेज आधार वाले द नेशन साइंस फाउंडेशन नेटवर्क एनएफएस नेट को लाया गया जो कि एक ग्लोबल नेटवर्क के लिए यूएस का आधार बन गया ARPANET bitnet NSF net और दूसरे नेटवर्को के बीच संबंध को इंटरनेट कहां गया एचटीटीपी प्रोटोकॉल ने वर्ल्ड वाइड वेब को जन्म दिया जो कि आज मशहूर है 1989 में इंटरनेट को सूचीबद्ध करने का पहला प्रयास पीटर duch द्वारा मांट्रियल में माफगिल विश्वविद्यालय में किया गया जिसने एफटीपी साइट्स के एक अभिलेख आर्ची की खोज की

दूसरी प्रणाली डब्ल्यू ए आई एस wide area information server का विकास थिंकिंग मशीन कारपोरेशन के ब्रिस्टर कहले द्वारा किया गया सी आर एन यूरोपियन लेबोरेट्री फॉर पार्टिकल फिजिक्स के टीम बर्नर्स ली ने इंटरनेट पर सूचनाओं को वितरित करने के लिए एक नई तकनीक का विकास किया।

जिसे अंततः वर्ल्ड वाइड वेब कहां गया जो अलग-अलग साइटों पर प्रयोग करता को दस्तावेजों को एक दूसरे को जोड़ने की सुविधा देती है 1993 में सुपरकंप्यूटिंग एप्लीकेशन एन सी एस ए के लिए मोजेक का विकास नेशनल सेंटर में मार्क एंडरसन द्वारा किया गया या वर्ल्ड वाइड वेब के लिए प्रमुख नेविगेटिंग प्रणाली बन गया

Conclusion 

दोस्तों अगर आपको मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों में रिश्तेदारों में फैमिली मेंबर में फेसबुक व्हाट्सएप टि्वटर जैसे सोशल साइट पर शेयर जरूर करें धन्यवाद फिर मिलेंगे बहुत जल्द अगले पोस्ट पर तब तक आप मेरा इंतजार कीजिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here